पंडित जवाहरलाल नेहरू महाविद्यालय नवागढ़ में “आजादी का अमृत महोत्सव” के अवसर पर 21वीं सदी में मानवाधिकार दशा एवं दिशा पर एक दिवसीय राष्ट्रीय वेबीनार का आयोजन

-

पंडित जवाहरलाल नेहरू महाविद्यालय नवागढ़ में आज दिनांक 26/02/2022 को आजादी का अमृत महोत्सव के अवसर पर 21वीं सदी में मानवाधिकार दशा एवं दिशा पर राजनीति विज्ञान विभाग द्वारा एक दिवसीय राष्ट्रीय सेमिनार का आयोजन ऑनलाइन (गूगल मीट) के माध्यम से रखा गया । जिसमें लगभग 60 प्रतिभागी उपस्थित थे। इस कार्यक्रम में महाविद्यालय के संचालक श्री विनोद कुमार अग्रवाल जी ,संचालक श्रीमती अन्नपूर्णा बंसल जी ,महाविद्यालय के प्राचार्य डॉ राजेश शर्मा जी, अन्य संस्थाओं के प्रतिभागी समस्त शिक्षक गण छात्र-छात्राएं एवं इस कार्यक्रम के मुख्य प्रवक्ता डॉ धर्मराज शर्मा जी (राजनीति विज्ञान विभाग प्राध्यापक एवं प्राचार्य इंद्रप्रस्थ महिला महाविद्यालय मुंडावर अलवर राजस्थान , डॉ सीमा अग्रवाल सहायक प्राध्यापक (राजनीति विज्ञान विभाग सेंट्रल संस्कृत यूनिवर्सिटी जयपुर ) ,श्रीमान ऋषि चंद्रा सहायक प्राध्यापक शासकीय नवीन महाविद्यालय चंद्रपुर उपस्थित रहे। इस कार्यक्रम में डॉ डी.आर. शर्मा जी ने कहा कि देश में धर्म जाति रंग के आधार पर भेदभाव होगा तब तक मानव अधिकार का उल्लंघन होता रहेगा।

डॉ सीमा अग्रवाल जी ने कहा कि, सामाजिक सांस्कृतिक आर्थिक एवं राजनीतिक परिपेक्ष में उपेक्षित वर्गों की अधिकारों का रक्षा करना वास्तव में मानवाधिकार है एवं वसुधैव कुटुंबकम का संदेश दिया। श्रीमान ऋषि चंद्रा जी ने कहा कि जब तक हम महिलाओं का सम्मान नहीं करेंगे तब तक महिलाओं का मानव अधिकार का हनन होता रहेगा । महाविद्यालय के संचालक वी.के बंसल जी ने कहा कि अनेकता में एकता भारत की विशेषता शब्द को व्यावहारिक रूप में लाना चाहिए तभी, मानव अधिकार सुरक्षित होगा । महाविद्यालय के संचालक श्रीमती अन्नपूर्णा बंसल जी ने कहा कि जाति और एवं धर्म के आधार पर देश को बांटना गलत है । इससे मानव अधिकार का हनन होता है। प्राचार्य डॉ राजेश शर्मा जी ने सर्वे भवंतु सुखीन: का संदेश दिए। कार्यक्रम का संचालन महाविद्यालय के सहायक प्राध्यापक सुश्री राम कुमारी भारद्वाज ( विभागाध्यक्ष राजनीति विज्ञान विभाग ) के द्वारा किया गया।

[ays_slider id=1]

इसे भी पढे ----

वोट जरूर करें

Sorry, there are no polls available at the moment.

आज का राशिफल देखें 

[avatar]